दिल्ली में दिखी तीसरी लहर; प्रधानमंत्री बैठक में केजरीवाल बोले

देश में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या देख कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज उन सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ अहम बैठक में है जहां जरूरत से ज्यादा मरीज आ रहे है। अभी चल रहे इस बैठक में अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री को बताया कि बीते 10 नवंबर को दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर देखी गई है। उन्होंने कई मुद्दों से पीएम मोदी को अवगत भी कराया।

बता दें कि इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह के साथ कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित आठ राज्यों के मुख्यमंत्री मौजूद हैं। यह बैठक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए हो रही है। इस बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल समेत कई अन्य राज्यों के सीएम हिस्सा ले रहे हैं।

पीएम मोदी के साथ बैठक के दौरान दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली में 10 नवंबर को कोरोना की तीसरी लहर आई है। दिल्ली के मुख्यमंत्री कार्यालय ने जानकारी देते हुए कहा कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को जानकारी दी कि दिल्ली में 10 नवंबर को 8600 कोरोना मामलों के साथ तीसरी लहर देखी गई। सीएम केजरीवाल ने कहा कि तब से मामले और पॉजिटिव दर लगातार कम हो रही है। उन्होंने कहा कि तीसरी लहर की उच्च गंभीरता प्रदूषण सहित कई कारकों के कारण है।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम से हस्तक्षेप की मांग की, ताकि प्रदूषण से छुटकारा मिल सके। उन्होंने निकटवर्ती राज्यों से जलने वाली पराली के कारण होने वाले प्रदूषण पर चिंता जताई। इसके साथ ही सीएम केजरीवाल ने दिल्ली में तीसरी लहर तक केंद्र सरकार के अस्पतालों में अतिरिक्त 1000 आईसीयू बेड की भी मांग की है।

प्रधानमंत्री देश में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित जिन 8 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर रहे हैं, उनमें दिल्ली, महाराष्ट्र, राजस्थान, पश्चिम बंगाल, हरियाणा, गुजरात, केरल और छत्तीसगढ़ शामिल हैं। इन राज्यों में बीते दिनों कोरोना के मामलों में अचानक उछाल देखा गया है।