दलित लड़की के साथ 8 साल से दुराचार: पुलिस कार्यवाही ना होने पर आत्महत्या की कोशिश

कांगड़ा के ज्वाली थाना के अंतर्गत एक युवती ने पिछले 8 सालों से शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने की शिकायत दर्ज करवाने की कोशिश की। पुलिस वालों द्वारा समय पर कोई कानूनी कार्यवाही नही करने पर लड़की ने जहर खा लिया। जानकारी के मुताबिक पीड़िता साथ एक लड़का पिछले 8 सालों शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करता आ रहा है और अब शादी करने से इनकार कर रहा है क्योंकि लड़की दलित समुदाय से संबंध रखती है, जिसके चलते आरोपी ने लड़की से शादी करने से मना कर दिया था। लड़की ने 7 नवम्बर को पुलिस में शिकायत पत्र दिया था लेकिन उस समय पुलिस ने कोई कार्यवाही नही की।

पीड़िता ने कांगड़ा पुलिस के खिलाफ पुलिस महानिदेशक को शिकायत पत्र भेजा है। जिसमें लड़की ने पुलिस द्वारा कार्यवाही नही करने और आरोपी तथा पुलिस वालों पक्ष द्वारा केस ना करने का प्रेशर बनाने के आरोप लगाए है। लड़की ने लिखा है कि 9 नवम्बर को ज्वाली थाना बुलाया गया था। वहां पुलिस और आरोपी पक्ष द्वारा लड़की को बहुत बुरी तरह प्रताड़ित किया गया और केस ना करने के लिए दबाब बनाया गया। पीड़ित लड़की के पुलिस और आरोपी पक्ष के लोगो पर आरोप काफी संगीन है। लड़की ने शिकायत पत्र में एक महिला पुलिस कर्मी पर पैसे लेकर मुंह बंद करने और डीएसपी पर शादी का खर्चा लेकर केस ना करने के भी आरोप लगाए है। लड़की की यह भी शिकायत है कि पुलिस ने एक कागज पर मेरी मर्जी के बिना हस्ताक्षर भी लिए है।

जानकारी के मुताबिक पीड़ित लड़की 10 नवम्बर को पुलिस स्टेशन ज्वाली गई थी और जाने से पहले पीड़िता ने जहर खा लिया था। जिसके चलते रात को पीड़ित लड़की की हालत खराब हो गई और उसको हॉस्पिटल में दाखिल कर दिया गया था और अभी लड़की को टांडा रेफेर कर दिया है।

10 नवम्बर को लड़की फिर से पुलिस स्टेशन गई तो उसका केस दर्ज किया गया। लड़की के कपड़े कब्जा में लेकर मेडिकल के लिए भेजा गया है और आरोपी को 376, 506 आईपीसी और एससी एसटी एक्ट की धारा 2(5) में मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है।