अलकायदा के काफिले पर मिसाइलों से हमला, 50 आतंकी मारे गए

फ्रांस ने माली में आतंकियों के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक की है और दावा किया गया है कि इस अटैक में अलकायदा के कम से कम 50 आतंकियों को इस स्ट्राइक में मारा गए है। सेना प्रवक्ता ने जानकारी दी है कि माली में सेना ने जिहादियों के खिलाफ आपरेशन शुरू कर रखा है और यह आपरेशन 30 अक्टूबर को अंजाम दिया गया है। ताकि आतंकियों की विंग इस्लामिक स्टेट इन ग्रेटर सहारा को खत्म किया जा सके। इस इलाके में फ्रांस ने अपने लगभग 1500 सैनिक तैनात कर रखे है। बताया गया ही कि यह ऑपरेशन एक महीने से चल रहा है।

जानकारी के मुताबिक यह संगठन सेना पर अटैक करने वाला था। बुर्किना फासो और नाइजर की सीमा पर सेना से ड्रोन को एक मोटरसाइकिलों का काफिला नजर आया था और उसी काफिले पर मिराज से मिसाइलें दागी गई थी। इस हमले में चार आतंकियों को पकड़ा गया है और एक फियादीन जैकेट भी बरामद की गई है।

फ्रांस में आतंकी घटनाओं का इजाफा एक अध्यापक के द्वारा मुहमद पैगम्बर का कार्टून दिखाने से शुरू हुआ था। जिसको उसके ही छात्रों ने सिर कलम करके मार दिया था। घटना में नीस चर्च के बाहर तीन लोगों की हत्या हुई थी और चर्च के पादरी को गोली मार दी थी। राष्ट्रपति मैक्रो में इन घटनाओं को इस्लामिक हमला बताया था और सभी के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्यवाही अमल में लाई गई थी। उसके बाद से फ्रांस मुस्लिम देशों के निशाने पर आ गया था।