Right News

We Know, You Deserve the Truth…

शिमला में पहला दिन 2673 लोगों को वैक्सीन।

शिमला में पहले दिन 18 से 44 साल उम्र के 2673 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। जिला के 27 स्वास्थ्य केंद्रों में टीकाकारण केंद्र स्थापित किए गए थे। सुबह साढ़े नौ बजे से टीका लगना शुरू हो गया। युवाओं में भी टीकाकारण को लेकर खासा उत्साह दिखा।

अब 20 मई को इस आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी ने आज जानकारी देते हुए बताया कि जिला में 18 वर्ष से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को कोविड-19 वेक्सिन टीकाकरण के तहत कोविन पोर्टल पर ऑनलाईन पंजीकृत 2800 में से 2673 लोगों का टीकाकरण किया गया है। जिला में 27 स्वास्थ्य केंद्र टीकाकरण के लिए स्थापित किए गए हैं।

जिला में टीकाकरण के लिए बनाए गए थे 27 स्वास्थ्य केंद्र, 18 से 44 साल आयु वर्ग के लोगों में दिखा उत्साह।

इनमें 31 मई तक कोविड प्रोटोकॉल के तहत प्रत्येक सोमवार व गुरुवार को यह टीकाकरण किया जाएगा। कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए सभी से टीकाकरण करवाने की अपील की ताकि कोरोना संक्रमण की चेन को तोडऩे में सफलता पाई जा सके।

विभिन्न केंद्रों पर टीकाकारण के लिए युवाओं में काफी उत्साह देखने को मिला। टीकाकरण के लिए कोविन पोर्टल अथवा आरोग्य सेतू ऐप पर ऑनलाइन पूर्व पंजीकरण करवाना आवश्यक है। पंजीकरण करवाने के उपरांत पात्र व्यक्ति को स्लॉट बुक करवाना अवश्यक होगा।

उसके बाद एसएमएस के माध्यम से लाभार्थी को सूचना मिलने के उपरांत ही टीकाकरण किया जाएगा। अब 20 मई को 18 से 44 साल के लोगों को वैक्सीन लगनी है। ऐसे में पिछली बार की तरह इस बार भी दो दिन पहले ही पोर्टल को खोला जाएगा। 18 मई को पोर्टल खोला जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ही तय करता है कि पोर्टल कब व कैसे खोला जाए।

314 व्यक्तियों को टीकाकरण।

रिकांगपिओ (मोहिंद्र नेगी)। सोमवार को जिला किन्नौर में 18 से 44 आयु वर्ग के 314 व्यक्तियों को कोविड- 19 का पहला टीका लगाया गया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सोनम नेगी ने बताया कि किन्नौर जिला के तीन स्थान रिकांगपिओ, भावानगर व रिब्बा स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के लोगों को टीका लगाया गया। अस्पताल में 106 टीके लगाए गए। 

error: Content is protected !!