Right News

We Know, You Deserve the Truth…

MBBS में दाखिले के नाम पर युवती से ठगे 17 लाख, पिता जे दर्ज करवाई एफआईआर

एमबीबीएस में प्रवेश दिलाने के नाम पर एक प्रतियोगी छात्रा से 17 लाख ठगने के मामले में पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। मेडिकल कालेज में छात्रा की काउंसिलिंग किससे कराई गई थी, इसकी गोपनीय तरीके से जांच की जा रही है। माना जा रहा है कि इस जांच के दायरे में कई नाम सामने आ सकते हैं।

यह था मामला

प्रतापगढ़ जनपद के आसपुर देवसरा थानांतर्गत सारडीह गांव निवासी सुरेंद्र यादव की पुत्री पूजा एलनगंज में रहने वाले अपने मौसा डा. विकास यादव के यहां रहकर मेडिकल परीक्षा की तैयारी करती है। वर्ष 2020 में उसने परीक्षा दी तो उसके अंक थोड़े कम आए। सात नवंबर 2020 को तानी नामक युवती ने उसे फोन किया और कहा कि वह एमबीबीएस में दाखिला करा सकती है।

उसने उसे नोएडा जाकर सचिन सिंह से मिलने को कहा। पूजा अपने पिता के साथ वहां गई और फिर मोतीलाल नेहरू मेडिकल कालेज में प्रवेश कराने को लेकर 21 लाख रुपये में बात तय हुई।

मेडिकल करा दी थी छात्रा की काउंस‍िलिंग

18 दिसंबर 2020 को पल्मनोलजी डिपार्टमेंट में ले जाकर तीन लोगों से परिचय कराते हुए पूजा की काउंसिलिंग करवाई गई। उसी दिन उसे 11 लाख रुपये और दिए गए। इसके पहले छह लाख रुपये दिए गए थे। 17 लाख रुपये देने के बाद भी पूजा का एडमीशन नहीं हुआ तो उसके पिता सुरेंद्र ने कोतवाली थाने में तानी, सचिन सिंह, पंकज कुमार, आदर्श सिंह और डा. ज्ञानेंद्र सिंह के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

आरोपितों के मोबाइल नंबर हुए बंद

अब पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। पुलिस ने आरोपितों के मोबाइल नंबर पर फोन लगाया तो सभी के नंबर बंद मिले। इसके अलावा गोपनीय तरीके से उन लोगों के बारे में पता लगाया जा रहा है जिन्होंने काउंसिलिंग की थी। पुलिस का कहना है कि आरोपितों के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाली जा रही है और इसके बाद कई के नाम सामने आने की संभावना है।


error: Content is protected !!