दुनिया की दिग्गज फोन मेकर कंपनी एप्पल को अपने आईफोन 12 सीरीज के स्मार्टफोन के साथ चार्जर ना देना भारी पड़ गया। 9to5Google की रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रजील की कंज्यूमर प्रोटेक्शन एजेंसी Procon-SP ने एप्पल पर इसके लिए 2 मिलियन डॉलर (करीब 14 करोड़ रुपये) का जुर्माना लगाया है। ब्रजीलियन एजेंसी ने भ्रामक विज्ञापन, बिना चार्जर के डिवाइस बेचना और अनुचित नियमों’ को जुर्माने की वजह बताया है। प्रोकॉन-एसपी ने यह भी बताया है एप्पल के इस कदम से पर्यावरण को कोई लाभ नहीं दिख रहा।

अपने फैसले में एजेंसी ने एप्पल से यह भी पूछा कि क्या कंपनी ने चार्जर निकालने के बाद iPhone 12 की कीमत घटा दी है? हालांकि एप्पल की तरफ से इसका कोई जवाब नहीं मिला है। कंपनी ने ऐसे सवालों के जवाब भी नहीं दिए, जैसे कि चार्जर के साथ और उसके बिना हैंडसेट की कीमत क्या थी, और क्या कंपनी ने चार्जर का प्रोडक्शन कम कर दिया है?

चार्जर हटाने की एप्पल ने बताई थी यह वजह
बता दें कि एप्पल ने पिछले साल अक्टूबर में आईफोन 12 सीरीज को लॉन्च किया था। कंपनी ने उस समय दुनियाभर के लोगों को हैरान कर दिया था, जब बॉक्स के साथ चार्जर ना देने की बात कही थी। हालांकि कंपनी ने इसके पीछे एक जरूरी वजह भी गिनाई थी। एप्पल का कहना था कि चार्जर ना देकर कंपनी ई-वेस्ट (इलेक्ट्रॉनिक कचरा) की समस्या को कम कर रही है, जिससे पर्यावरण को फायदा होगा। एप्पल के बाद सैमसंग ने भी इस तरकीब को अपनाया है।

error: Content is protected !!