Right News

We Know, You Deserve the Truth…

हरियाणा में 10 साल की बच्ची के साथ सात लड़कों ने किया गैंगरेप, वीडियो वायरल होने पर दर्ज हुआ केस

हरियाणा के रेवाड़ी से एक शर्मनाक घटना सामने आई है. यहां 24 मई को कुछ बच्‍चे मैदान में खेलते-खेलते पास के स्‍कूल की बिल्डिंग में पहुंचे और वहां सात लड़कों ने एक 10 साल की लड़की के साथ गैंगेरेप कर दिया. हालांकि घटना की जानकारी एक सप्ताह के बाद लोगों को हुई जब घटना का वीडियो पीड़‍ित लड़की के पड़ोसियों ने सोशल मीडिया पर देखा.

जब पीड़‍ित लड़की के परिवार को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने तुरंत पुलिस को खबर दी. हालांकि घटना की जानकारी एक सप्ताह के बाद लोगों को हुई जब घटना का वीडियो पीड़‍ित लड़की के पड़ोसियों ने सोशल मीडिया पर देखा.

जब पीड़‍ित लड़की के परिवार को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने तुरंत पुलिस को खबर दी. खबरों की मानें तो लड़की का परिवार 9 जून को पुलिस के पास पहुंचा और केस दर्ज करवाने का काम किया. रेवाड़ी के डीएसपी (हेडक्‍वॉर्टर) हंसराज ने मामले की जानकारी देते हुइए कहा कि केस महिला पुलिस थाने में आईपीसी की धारा 376डी, 354सी, 506, पॉक्‍सो, आईटी ऐक्‍ट और एससी/एसटी ऐक्‍ट के तहत दर्ज कर लिया गया है.

सातों आरोपियों की बात करें तो इनमें से केवल एक बालिग है यानि 18 साल का है, अन्य सभी 10 से 12 साल के बीच के हैं. लड़की के पड़ोसी ने वीडियो के आधार पर सभी आरोपियों की पहचान की. बताया जा रहा है कि आरोपी और पीड़‍िता पड़ोसी हैं जिनको पुलिस ने पकड़ा है.

पुलिस ने बताया कि लड़की को मेडिकल चेकअप के लिए ले जाया गया जिसके बाद लड़की के साथ हुए गैंगरेप की पुष्टि हुई. चौंकाने वाली बात तो यह है कि 7 आरोपियों में से तीन नाबालिग लड़की के रिश्‍तेदार हैं. आरोपियों में से 6 नाब‍ालिगों को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के सामक्ष पेश किया गया और बाद में सुधारगृह में भेज दिया गया. वहीं 18 साल के आरोपी को कोर्ट के सामने पेश करने के बाद जिला जेल में भेजने का काम पुलिस ने किया.

पुलिस वीड‍ियो में नजर आने वाले दूसरे नाबालिगों को तलाश कर रही है.. साथ ही वीडियो शेयर करने वालों की डिटेल जुटने का प्रयास पुलिस कर रही है. बताया जा रहा है कि पीड़‍ित लड़की और आरोपी लड़कों के परिवार की पहचान एक दूसरे से है. ये लोग एक साथ रेवाड़ी के एक गांव में रहते हैं. जहां बच्‍चे खेल रहे थे वहां पास ही एक स्कूल की इमारत है. कोरोना संक्रमण के कारण वहां क्‍लास नहीं चल रही थीं इसलिए वह खाली थी.


error: Content is protected !!