शिमला में मध्यप्रदेश को नाबालिग लड़की रेस्क्यू; दो दिन बाद भी अपराधी गिरफ्तार नही

Read Time:2 Minute, 6 Second

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला के टूट में पिछले एक साल से मध्यप्रदेश की एक नाबालिग लड़की को बंधक बना कर रखा हुआ था। जानकारी के मुताबिक नाबालिग लड़की का सिर मुड़वा दिया गया था और एक साल से घर से बाहर नही जाने दिया गया था। जब लड़की को रेस्क्यू किया गया तो लड़की के हाथों में छाले पड़े हुए थे और कई महीनों से नाबालिग लड़की को भरपेट खाना भी नही दिया गया था। नाबालिग लड़की को एक अंडरग्राउंड कमरे में बंद करके रखा जाता था। सबसे बड़ी हैरानी की बात यह है कि लड़की को कभी वेतन नही दिया गया। जिससे यह मामला मानव तस्करी से जुड़ा हुआ भी लगता है।

जानकारी के मुताबिक लड़की मध्यप्रदेश के चेवा गांव की रहने वाली है और लड़की का परिवार इतना गरीब है कि उन्होंने लड़की को अपने पास ले जाने में असमर्थता जताई है। चाइल्ड वेलफेयर कमेटी और हिमाचल प्रदेश पुलिस इस मामले में साथ मिलकर कार्यवाही कर रहे है। ताकि पता चल सके कि लड़की को शिमला कैसे लाया गया और किस प्रकार से आज तक लड़की का शोषण हुआ है। लेकिन मध्यप्रदेश पुलिस का साथ नही मिलने से इस केस में काम करने में हिमाचल पुलिस को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

सबसे हैरानी वाली बात यह है कि दो दिन बीत जाने पर भी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार नही किया है। जबकि आरोप इतने संगीन है। डीएसपी का कहना है कि इस मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है और अभी जांच जारी है। जांच के बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!