केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी है। किसानों के आंदोलन के समर्थन में अलवर के शाहजहांपुर बॉर्डर पर प्रदेश के किसानों का धरना जारी है। इस बीच गुरुवार को यहां कुछ किसानों ने जबरन हरियाणा में घुसने की कोशिश की। करीब 1 दर्जन ट्रैक्टरों पर सवार किसान हरियाणा पुलिस की बैरिकेडिंग तोड़ते हुए बॉर्डर से आगे निकल गए। इसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस छोड़ी और किसानों को खदेड़ा। इस दौरान कई किसान घायल हो गए। हरियाणा पुलिस ने कुछ किसानों को हिरासत में भी लिया है।

बता दें कि प्रदेश के किसान शाहजहांपुर बॉर्डर पर 12 दिसंबर से आंदोलन कर रहे हैं। किसान हाइवे पर तंबू लगाकर पड़ाव डाले हुए हैं। यह सभी किसान दिल्ली बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे किसानों के समर्थन में दिल्ली कूच करना चाहते हैं, लेकिन हरियाणा पुलिस ने उन्हें आगे नहीं जाने दे रही है। शाहजहांपुर बॉर्डर पर राजस्थान और हरियाणा के अलावा गुजरात और महाराष्ट्र के भी किसान पहुंचे हैं। पहले यहां हाइवे की एक लेन बंद की गई थी, लेकिन नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल के बॉर्डर पर पहुंचने से पहले हरियाणा पुलिस ने जयपुर-दिल्ली हाइवे की दूसरी लेन भी बंद कर दी थी। पुलिस को अंदेशा था कि सांसद के आने के बाद किसान दिल्ली कूच कर सकते हैं।

error: Content is protected !!